Pitru Paksha 2020 - सुखी रहने के लिए जरूरी है पूर्वजों का आशीर्वाद

हिंदू पंचांग के अनुसार पितृ पक्ष की शुरुआत भाद्रपद पूर्णिमा तिथि से होती है और समापन आश्विन की अमावस्या पर होता है। इन 16 दिनों में पितरों का श्राद्ध कर उनका तर्पण किया जाता है।